Paytm After 29 February : जाने 29 फरवरी के बाद पेटीएम बंद हो जाएगा या चालू रहेगा, निवेशक क्या करें

Paytm After 29 February : करोड़ों लोग पेटीएम से जुड़े हुए हैं। ऐसे में कोई पेटीएम पेमेंट बैंक का ग्राहक है तो कोई एप्लीकेशन पर मिल रही सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में जितने ही लोग है उतने ही सवाल हैं।

आपको बता दे की पेटीएम शेयर में भी लोगों का पैसा डूब गया हालांकि पिछले तीन-चार दिनों में 45 फ़ीसदी से ज्यादा की गिरावट के बाद पेटीएम शेयर में तीन फिसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी देखी गई। ऐसे में आपको बता दें कि फिलहाल पेटीएम शेयर 451 रुपए से ज्यादा पर है लेकिन बड़ा सवाल यह है कि बढ़ोतरी कितने दिन जारी रहेगी ऐसे में खबर यह भी सामने निकल कर आ रही है कि मुकेश अंबानी की कंपनी जिओ पेटीएम वॉलेट का अधिग्रहण कर सकती है । हालांकि बाद में जिओ फाइनेंशियल सर्विस ने पेटीएम को सहारा देने से इनकार कर दिया।

मर्चेंट यानी पेटीएम से जुड़े दुकानदारों को भी टेंशन है। ऐसे में पेटीएम के संकट के बाद क्या दुकानदारों ने दूसरा ऑप्शन ढूंढना शुरू कर दिए हैं क्या दुकानदार पेटीएम की क्यूआर कोड जैसी सुविधाएं इस्तेमाल कर पा रहे ऐसे में यूजर्स की कंफ्यूजन दूर करने के लिए सोशल मीडिया ने फाइनेंशियल एक्सपर्ट से बात की है। जिससे आप सभी लोगों की सारी संका दूर हो जाएंगे। लेकिन सबसे पहले आप सभी लोगों को बता दें कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है। पेटीएम बैंक में जमा आपका पैसा कहीं जाने वाला नहीं है।

Paytm After 29 February : जाने दिल्ली यूनिवर्सिटी से डॉक्टर अनिल कुमार प्रोफेसर ने पेटीएम में जमा पैसे को लेकर क्या कहे हैं

डॉ अनिल कुमार प्रोफेसर ने कहे हैं कि जिनके पेटीएम वॉलेट या पेटीएम पेमेंट बैंक में जो पैसा डिपॉजिट है वह उसके पर कोई असर नहीं होगा। उन्होंने यह भी कहीं की आरबीआई ने इस पर बिल्कुल यह क्लियर किए है कि जब तक आपका बैलेंस है तब तक आप इस वॉलेट को भी उसे कर सकते हैं और पेमेंट बैंक के थ्रू आप उसमें उसका भी उपयोग कर सकते हैं । ऐसे में आप इस वॉलेट को टॉपअप नहीं कर सकते हैं । बैंक के पेमेंट के थ्रू और कोई दूसरा नया डिपोजिट नहीं कर सकते हैं और जो डेट लाइन दी गई है वह फरवरी 29 की दी हुई है लेकिन उसके बाद भी बैलेंस बचता है तो उसके बाद भी उसका उपयोग हो सकेगा।

मतलब कहने का तात्पर्य यह है कि जो डिपॉजटर उनके इंटरेस्ट का पूरा ख्याल रखा गया है । ऐसे में डिपॉजेटर का पैसा कहीं नहीं फंसने वाला है रिजर्व बैंक ने यह बिल्कुल साफ तौर पर कहे हैं कि हम उनके हित का पूरा ख्याल रख रहे हैं 29 फरवरी तक और उसके बाद भी बैलेंस बचता है तो उसे पैसे का तमाम तरह का जो इस्तेमाल पहले होता है। वह रहेगा ऐसे में कताई कोई परेशानी नहीं आने वाली है।

क्योंकि जो पेटीएम वॉलेट है वह तो खाली एक ऑप्शन है। हमारे पास पेमेंट के दुनिया भर के ऑप्शन आज के डेट में फास्टेस्ट काम करेंगे यानी फर्स्ट का अलग सिस्टम होता है। काम करने का उसमें पैसे को टॉपअप करना होता है जो आप पैसा टॉपअप कर चुके हैं ।

वह जब तक उनका जॉस्स नहीं होता है जब तक वह फास्टेस्ट काम करेगा और जब आपका बैलेंस खत्म हो जाएगा तो आपको उसकी टॉपअप करने का बहुत सारे ऑप्शन है बहुत सारे विकल्प है। जिनके माध्यम से आप इसे टॉपअप कर पाएंगे देखिए जब इस तरह की बात होती है तो शेयर बाजार में उसका स्वाभाविक है कि उसका प्रभाव बहुत नेगेटिव पड़ता है। शेयरहोल्डर्स को काफी नुकसान भी हो रहा है तो उसके लिए तो ज्यादा कुछ नहीं कर सकते जो नुकसान होना ही होना है लेकिन जो कंप्लायंस है वह बहुत ही जरूरी है तो ऐसे में यह पेटीएम को समझना चाहिए था कि आप रूल्स के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते हैं।

येभी ढ़ें >>>> UPI चलाने वालों के लिए बुरी खबर, Paytm के बाद Google Pay पर जारी हुआ बड़ा अलर्ट, देखें पूरी जानकारी।

Paytm After 29 February :

आपको बता दें कि सूत्र से हवाले की खबर है कि पेटीएम फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात किए हैं। ऐसे में सरकार या उससे जुड़ी कोई भी संस्था अगर कोई बड़ा फैसला करते हैं तो लोगों को हित के ध्यान में रखा जाता है। इसलिए पेटीएम पर एक्शन से पहले आरबीआई ने जरूर कोई सॉलिड प्लान बनाया होगा।

येभी ढ़ें >>>> Paytm की डूबती नईया को पार लगाने के Axis Bank तैयार, देश के सबसे बड़े बैंक आया आगे।

Amit Kumar

हलो मैं अमित कुमार, मैं ब्लॉगिंग के इस फील्ड में 2 सालो से कार्यरत हूँ। मैं अभी ग्रेजुएशन पार्ट 3 में हूँ। मैं पढाई के साथ साथ ब्लॉगिंग के फिल्ड में अपना कैरियर बना रहा हूँ। मैं पढाई, नौकरी समाचार, सरकारी योजना तथा मोटर कार, न्यूज़ पॉलिटिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करता हूँ।

Note (नोट) :- इस ब्लॉग की सभी खबरें Google Search से लीं गयीं ,कृपया खबर (News) का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें. इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है. पाठक ख़बरे के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा.

Leave a Comment

यहाँ क्लिक करे।