Sahara India : सुब्रत रॉय के Death के साथ ही दफन हो गया यह राज, अब होगा भारी हड़ताल, सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

Sahara India investors will strike against the government : एक ही मांग एक ही नारा सहारा इंडिया (Sahara India)  भुगतान करो हमारा। समय-समय पर शहर के कार्यकर्ता और निवेशको और कई लोगों ने इस तरह की मांग और हड़ताल और आंदोलन किए हैं। जो किया हड़ताल पिछले कुछ सालों से लगातार चलता रहा है।

जब से सहारा इंडिया कंपनी (Sahara India Company) निवेशको का पैसा वापस नहीं कर रही है तब से सहारा इंडिया की निवेदक और कार्यकर्ता हड़ताल और धारणा प्रदर्शन समय-समय पर आए दिन करते रहते हैं। लेकिन इसी बीच एक बड़ी खबर देखने को मिल रही है। और वह खबर है कि सहारा समूह (Sahara Group)  के 5 लाख निवेशक दिल्ली में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने जा रहे हैं ताकि केंद्र सरकार बरसों से निवेश किए हुए पैसों की वापसी (Sahara Refund)  करवा सके। और इसीलिए सहारा समूह (Sahara Group) के द्वारा संचालित 4 समिति और और उनमें जो निवेशक हैं जिनकी संख्या 5 लाख बताई जाती है और वह विरोध प्रदर्शन करने के लिए दिल्ली जा रहे हैं। ऐसी रिपोर्ट्स सामने आ रही है। और यह खबर (Sahara India Breaking News)  बिल्कुल सही है।

सुब्रत राय की मौत के साथ ही दफन हो गया Sahara India Company का सबसे बड़ा राज

सहारा इंडिया एक देश की सबसे बड़ी कंपनी थी जो की छोटे रकम से लेकर बड़े रकम तक अपनी कंपनी में लोगों के जरिए इन्वेस्ट करवाती थी। लेकिन Sahara India का एक राज जो आज दिन तक राज बना हुआ रह गया। आखिर कहां से आए 25000 करोड रुपए जो अभी तक Unclaimed पड़े हुए हैं। और इतना पैसा एक साथ कब निवेशकों से जमा करवाए गए। इस सवाल पर सहारा इंडिया के द्वारा कभी भी रिप्लाई नहीं किया गया। इस रिप्लाई के नहीं किए जाने के साथ ही सहारा के सबसे बड़े राज जो दफन हो गया।

Sahara India
Sahara India

दरअसल 1978 में शुरू हुई सहारा कंपनी अपने बैंक फैला कर भारत में राज करने की तैयारी कर रहा था लेकिन यह कंपनी (Sahara Companay) बहुत आगे तो बढ़ गई लेकिन उसके बाद सब कुछ चौपट हो गया। क्योंकि सहारा ग्रुप (Sahara Group)  से लिए गए 25000 करोड रुपए अब भी शेयर मार्केट के रेगुलेटर सेबी (SEBI)  के पास जमा है। जिन पर अभी तक किसी ने दावा तक नहीं किया है। मतलब कोई देश की बड़ी कंपनी या फिर देश के बड़े उद्योगपतिवी या फिर कोई बैंक यह सभी कोई नहीं कहता है कि यह 25000 करोड रुपए मेरे हैं। और यह पैसा लावारिस की तरह से भी के पास पड़ा हुआ है। ऐसे में जाहिर सी बात है कि यह पैसा सहारा की निवेशकों का है।

निवेशकों को अपना पैसा पाने के लिए सहकारिता मंत्रालय के द्वारा जारी किया गया नया पोर्टल

सहारा इंडिया रिफंड पोर्टल (Sahara Refund Portal) को अभी तक कई महीने हो गए लेकिन अभी तक मात्र 138 करोड रुपए को लेकर ही सहारा रिफंड पोर्टल (Sahara Refund Portal) के माध्यम से क्लेम किए गए हैं। मतलब 25000 करोड़ में से मात्र 138 करोड रुपए ही क्लेम किए गए हैं। ऐसे में सरकार के द्वारा साफ-साफ कहा गया कि अगर यह पैसा निवेश के कोई होते तो सहारा रिफंड (Sahara Refund) के माध्यम से क्लेम जरूर करते हैं। लेकिन 25000 करोड रुपए में से सिर्फ 138 करोड रुपए के लिए क्लेम किए गए हैं।

ये भी पढ़े >>>  Top 5 Sarkari Yojana For Daughter : बेटियों के लिए 5 सरकारी योजनाएं, पढ़ाई से लेकर शादी तक नो टेंशन, फटाफट उठाएं लाभ

Sahara के निवेशक एक साथ मिलकर दिल्ली में करेंगे केंद्र सरकार का घेराव

सहारा इंडिया (Sahara India) में लाखों करोड़ों रुपए गरीब जनता का फंसा हुआ है ऐसे में यह खबर निकलकर आ रही है कि दिसंबर 2024 में 5 लाख निवेशक दिल्ली में पहुंचकर सहारा इंडिया कंपनी के खिलाफ नारेबाजी करेंगे और सरकार से गुजारिश करेंगे कि हम निवेशकों का पैसा जल्द से जल्द दिलवाया जाय। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री कार्यालय का घेराव किया जाएगा। दिसंबर में निवेशक दिल्ली के जंतर मंतर पर पहुंचकर यह नारेबाजी और सरकार से गुहार लगाएंगे।

सहारा निवेशकों का प्रतिनिधित्व करने वाले पंजीकृत संस्था के अध्यक्ष अभय देव शुक्ला ने बताया कि इस बार देश भर से निवेशक आएंगे और दिल्ली के जंतर मंतर पर पहुंचकर सहकारी समितियां के केंद्रीय रजिस्टर और भारतीय जनता पार्टी और साथ में प्रधानमंत्री कार्यालय का घेराव करेंगे। ऐसे में लोकसभा चुनाव भी नजदीक आ रहे हैं तो उम्मीद है कि जल्द ही सहारा निवेशकों को सरकार देखेगी। और जल्द से जल्द पैसे सरकार के द्वारा वापस लौटाए जायेंगे।

Sahara Re-submission का ऑप्शन हुआ शुरू

अगर आपने भी सहारा इंडिया रिफंड पोर्टल (Sahara Refund Portal) के माध्यम से सहारा से पैसे प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन अप्लाई किए थे तो आप लोगों को बता दे की बहुत सारे लोगों का एप्लीकेशन को रिजेक्ट कर दिया गया है जिसके बाद Sahara Refund Portal पर एक बार फिर से Re-submission का ऑप्शन आया है। जहां पर जाकर सभी निवेदक फिर से अप्लाई कर सकते हैं। अप्लाई करने के लिए नीचे लिंक दिया गया है जिसके माध्यम से सभी जानकारी प्राप्त करते हुए अप्लाई करें।

ये भी पढ़े >>> Sahara Refund Re-submission : अगर चाहते हैं सहारा से अपने पैसे वापस प्राप्त करना तो इस नए लिंक Re-submission के माध्यम से फटाफट करें अप्लाई
Ankit वैश्यकीयार

Ankit Vaishykiyar is a Bihar native with a Bachelor's degree in Journalism from Patna University. With three years of hands-on experience in the field of journalism, he brings a fresh and insightful perspective to his work. Ankit Vaishykiyar is passionate about storytelling and uses his roots in Bihar as a source of inspiration. When he's not chasing news stories, you can find him exploring the cultural richness of Bihar or immersed in a good book.

Note (नोट) :- इस ब्लॉग की सभी खबरें Google Search से लीं गयीं ,कृपया खबर (News) का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें. इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है. पाठक ख़बरे के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा.

2 thoughts on “Sahara India : सुब्रत रॉय के Death के साथ ही दफन हो गया यह राज, अब होगा भारी हड़ताल, सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन”

  1. Jab company ne khata kholne ka form aur sadsyata form upload hi nahin kiya hai to rishabhmit kaise hoga jab tak company yah galti sudharegi nahin tab tak rishamit nahin ho sakta na to kisi ka Paisa mil Sakta

    Reply
  2. ज्यादातर कंपनी की गलतियां ही है सरकार को चाहिए की जमा करता को इसकी छूट दी जाए जमा करता कहां से कंपनी से फॉर्म अपलोड करवाइए कंपनी जमा करता की सुनती ही नहीं

    Reply

Leave a Comment

%d