RBI Latest News 2024 : किसी भी बैंक में खाते हैं, तो आरबीआई ने दिए बड़ी खुशखबरी सब कुछ बदल गए ,जाने इस खबर में

RBI Latest News 2024 :

अगर आपका भी किसी भी बैंक में खाता है । तो आप सभी लोगों के लिए बहुत ही बड़ी खुशखबरी की खबर आरबीआई के द्वारा दिया गया है । ऐसे में आप सभी लोगों को बता दें कि अब इन लोगों को मिनिमम बैलेंस चार्ज नहीं देने होंगे। आरबीआई की तरफ से यह राहत की खबर दिए गए हैं और कहा गया है कि अब यह निष्क्रिय खातों पर मिनिमम बैलेंस चार्ज की पर्सनैलिटी नहीं लगेंगे यह नियम 1 अप्रैल 2024 लागू होंगे आप सभी को बता दें कि इसमें कुछ और राहत दिए गए हैं ऐसे में बैंक खाता वालों के लिए बहुत ही बड़ी खुशखबरी है। अगर आपके पास किसी भी बैंक मे खाता है जिनका 2 साल से ज्यादा समय तक अगर आप इस्तेमाल नहीं करते हो हो तो बैंक उन्हें डीएक्टिवेट कर देते हैं। लेकिन उसके बाद भी क्या है कि बैंक उन पर मिनिमम बैलेंस की पेनल्टी लेते रहते हैं जो मंथली एवरेज बैलेंस की कंडीशन होते हैं ।

जाने पहली राहत क्या दिया गया है RBI Latest News 2024 :

लेकिन अब रिजर्व बैंक ने कहें कि ऐसे निष्क्रिय कहते हैं जिनमें दो वर्ष से ज्यादा समय हो गए हैं । कोई लैंड नहीं किए गए हैं उन बैंक खातों में अब मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर भी बैंक चार्ज ग्राहकों से नहीं ले पाएंगे ऐसे में आपको बता दें की पहली राहत यह दिए गए हैं ।

जाने दूसरी राहत क्या दिया गया है RBI Latest News 2024 : 

जो जो भी छात्र-छात्राओं के स्कॉलरशिप यानी की छात्रवृत्ति के अकाउंट खाता होते हैं । उन पर भी मिनिमम बैलेंस चार्ज नहीं लगेंगे रिजर्व बैंक ने यह भी कहा है कि बैंक और स्कॉलरशिप या फिर डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर डीबीटी के लिए बनाए गए एक हाथों पर किसी भी तरह का मिनिमम बैलेंस चार्ज नहीं लगेंगे।

जाने डीबीटी का मतलब क्या है RBI Latest News 2024 :

आपको बता दें कि डीबीटी का मतलब जैसे गैस सिलेंडर की सब्सिडी के लिए खाता है या मनरेगा के पैसे आ रहे हैं उनके लिए खाता है, जनधन खाता तो इन पर किसी भी तरह का मिनिमम बैलेंस मेंटेन चार्ज नहीं देने पड़ेंगे।

अब आपको अच्छा बैंक ब्याज को लेकर भी एक बड़ा फैसला लिया गया है देखिए आप बैंकों में सेविंग अकाउंट पर हमेशा ब्याज देते रहने होंगे चाहे वह निष्क्रिय ही क्यों ना हो मतलब आपका 2 साल से ज्यादा समय हो गए हैं ।

बैंक खाते को काम में नहीं लिया है उसके बावजूद भी अगर आपके खाते में थोड़ी बहुत भी पैसे पड़े हैं तो उन पर जो भी सेविंग अकाउंट का इंटरेस्ट है वह आपको मिलते रहेंगे।

आपको बता दें कि सरकारी स्कीम वाले खातों में जीरो बैलेंस है तो भी उन्हें निष्क्रिय नहीं माने जाएंगे और साथ ही उन पर भी मिनिमम बैलेंस पेनल्टी नहीं लगेंगे आरबीआई का कहना है। कि यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि बैंकों में जमा लावारिस राशि को कम करने में मदद मिलेंगे लावारिस राशि का मतलब कहीं सारे ऐसे बैंक खाते हैं।

जिनमें पैसे जमा है जिनका कोई लेन-देन नहीं हो रहे हैं उन बैंक खातों को 23 साल हो गए हैं वह डीएक्टिवेट पड़े हैं उनमें कभी कोई लेनदेन ही नहीं किए गए हैं । जबकि उनमें पैसे जमा है और यह आंकड़ा इतना है कि आप जानकर चौंक जाएंगे और हैरान हो जाएंगे।

आप सभी को बता दें कि आरबीआई की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक 28% लावारिस राशि से बड़ी है। आरबीआई की ताजा रिपोर्ट में बताया गया है कि मार्च 2024 के अंत तक लावारिस जमा राशि 28% बढ़कर 7200,00,000 हो गया है आपको बता दें कि भारतीय बैंकों में ऐसे जमा है दोस्तों जिनका कोई नहीं है ।उन बैंक खातों का हाल-चाल जानने बैंक खातों पर काम में लेने के लिए कोई आता ही नहीं है कई बार ऐसा होता है ।

कि जैसे मान लीजिए की दादा परदादा बैंक अकाउंट खुलवा रखे थे और उनका निधन हो गया है । और आपको पता ही नहीं है कि मेरा दादा परदादा बैंक में अकाउंट खाता खुलावा रखे थे ‌ उसके बाद वह बैंक खाता कोई संभालने वाले ही नहीं रहता है। और पहले नॉमिनी मैं दिए गए आदमी के पास भी इतना पावर नहीं था कि वह उसे बैंक अकाउंट से पैसे को निकाल सके ।

तो ऐसे में वहां अकाउंट पड़े रह जाते हैं अब उनमें उस जमाने के मान लो आप 10000 पर ही जमा थे। उसे बैंक अकाउंट में तो आज जो बढ़कर कितने करोड रुपए होंगे तो इस तरह से बैंक खातों में कई सारे लावारिस राशि जमा पड़े हैं ।

जो चार करोड़ से भी ज्यादा की 1 साल पहले तो 32 करोड़ हो गए थे अब आरबीआई ने जो बैंक खाता वालों के लिए कुछ नए नियम लागू किए हैं। जिनमें बड़ी राहत भी मिले हैं इस साल में ‌ यह नियम इसीलिए लागू किए हैं ताकि इस तरह की राशि को काम किया जा सके । हालांकि इसमें भी एक नया नियम लागू कर दिए गए हैं कि बैंक में रुपया जमा करके भूल गए हैं तो अब आपको आरबीआई बैंक जाना पड़ेगा।

ये भी पढ़ें >>>>

Ayushman Card : आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं अब राशनकार्ड नहीं होने पर भी ,बस करना होगा यह काम – स्वास्थ्य मंत्री ने दिए निर्देश

Amit Kumar

हलो मैं अमित कुमार, मैं ब्लॉगिंग के इस फील्ड में 2 सालो से कार्यरत हूँ। मैं अभी ग्रेजुएशन पार्ट 3 में हूँ। मैं पढाई के साथ साथ ब्लॉगिंग के फिल्ड में अपना कैरियर बना रहा हूँ। मैं पढाई, नौकरी समाचार, सरकारी योजना तथा मोटर कार, न्यूज़ पॉलिटिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करता हूँ।

Note (नोट) :- इस ब्लॉग की सभी खबरें Google Search से लीं गयीं ,कृपया खबर (News) का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें. इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है. पाठक ख़बरे के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा.

Leave a Comment

यहाँ क्लिक करे।