China pneumonia : करोना के बाद अब चीन में फैमिली बच्चों की बीमारी पर सरकार का अलर्ट पूरे भारत में

China pneumonia :

 

दोस्तों आपको पता ही होगा कि मीडिया में एक-दो दिन से कई तरह-तरह की खबरें चल रही है। कि करोड़ों वायरस के बाद चीन में एक और महामारी फैल गई है। ऐसे में WHO की तरफ से भी अलर्ट जारी किया गया था । और यह जो नई बीमारी है जो खास करके बच्चों को ही अपना शिकार बना रही है ।और इस पर हो WHO ने भी चिंता जताई थी लेकिन अभी क्या है।

कि इस पर एक नया अपडेट सामने निकल कर आ रहा है। जिसमें देश भर के वैज्ञानिकों ने लोगों को सलाह दिए हैं ।कि सावधान रहे और साफ सफाई करते रहे। ऐसे में आप सभी लोगों को बता दें कि चीन के रहस्यमय बीमारी से दुनिया भर के कई देश में हड़कंप सा मच गया है |और WHO ने भारत से संबंधित इस बीमारी को लेकर भी कुछ बयान बाजी किए हैं। और इसीलिए आप सभी लोगों को इस आर्टिकल्स के माध्यम से जानकारी देना चाहते हैं। कि आखिर WHO ने चीन में फैल रही बच्चों की बीमारी को लेकर WHO ने भारत के लिए क्या कहा है बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी अगर आपके भी घर परिवार में छोटे-छोटे बच्चे बच्चियाँ रहते हैं ।तो इस आर्टिकल्स को आप सभी लोग अंत तक जरूर पढ़ते रहें।

आप सभी लोगों को बता दें की शुरुआत में जैसे ही चीन से यह रहस्यमय बीमारी के बारे में पता चला उसके तुरंत बाद ही भारत सरकार अलर्ट हो गए हैं। हमारे केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने बयान जारी करते हुए कहा कि सरकार पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं ।और स्वास्थ्य विभाग भारत के किसी भी आपात स्थिति के लिए भी तैयार है। चीन के बच्चों में दरअसल श्वसन संबंधित बीमारियां हो रही है h9 N2 के संक्रमण के मामलों में करीबी नजर सरकार और वैज्ञानिक दोनों रख रहे हैं।

China pneumonia :

 

चीन के स्कूली बच्चों में जानिए रहस्य बीमारी के चलते तेज बुखार और फेफड़ों में जलन की शिकायत आ रही है । हालांकि बीजिंग के तो 800 किलोमीटर के दायरे में अस्पताल मरीजों से भर चुकी है । ऐसे में कई स्कूलों में छुट्टियां घोषित कर दिए गए हैं। इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए WHO यानी वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने भी चीन में फैली इस बीमारी की जांच के लिए चीन को ऑर्डर दिया। और कहां की चीन में हाल ही में जितने भी वायरस फैली उसकी लिस्ट WHO यानी वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने मांगी है।

China pneumonia :
China pneumonia :

WHO यानी वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने चीन से कहा कि करोना के बाद कौन-कौन सी वायरस चीन में फैली है। वह सभी वायरस का लिस्ट मुझे बनाकर दिया जाए। और वहीं WHO ने वहां के लोगों से कहा कहां की मुंह में मार्क्स पहनकर रखें ।और वायरस से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य करें

ये भी पढ़े >>> Magadh University Part 3 Result 2019-22 : मगध यूनिवर्सिटी के द्वारा पार्ट 3 का रिजल्ट हुआ जारी, MU Part 3 Result Download Link

हालांकि दुनिया के कई एक्सपर्ट का मानना है। कि इस बीमारी को GHO रहस्यमय बीमारी फैल रही है। ऐसे में इसको महामारी कहना अभी जल्दबाजी होगी ।क्योंकि यह किसी महामारी की तरह नहीं फैली है। लेकिन बच्चों में इतनी ही गंभीर तरीके से फैल रही है जो की चिंता की बात है।

जानिए भारत के लिए WHO इस बीमारी को लेकर क्या कहा (China pneumonia )

 

भारत के लिए WHOने इस बीमारी को लेकर यह कहे हैं। कि बच्चों में रहस्य में बीमारी की लक्षण निमोनिया जैसी दिख रही है। जिसमें फेफड़ों की सुजान सांस लेने में दिक्कत खांसी तेज बुखार इस तरह के लक्षण बच्चों में दिखाई देते हैं ।तो ऐसे में वह बच्चा वायरस के शिकार में है। तो ऐसे में आप सभी लोगों को बता दें। कि हमारे भारत सरकार ने इस रहस्य में बीमारी हमारे भारत देश में ना आ सके इसके लिए पुरी तैयारी में जुड़े हुए हैं।

और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चिंता जाहिर की है ।इस मामले को लेकर दुनिया भर के देशों के साथ-साथ भारत के लिए भी गाइडलाइन जारी करते हुए लोगों से अलर्ट रहने और सावधानी बरतने की अपील किए गए हैं। वैसे चीन में फैला एक तरह का यह वाइरस ही है ।निमोनिया फेफड़ों में बैक्टीरिया वायरस कवक के कारण होने वाले एक संक्रमण है।

निमोनिया के कारण फेफड़े के उत्तकों में सूजन आ जाती है। और फेफड़ों में तरल पदार्थ है ।यानी की मवाद पैदा हो जाता है इस संक्रमण का सामना बच्चों और बूढ़े लोगों को ज्यादा करना पड़ता है इसे जान जाने की खतरा भी बना रहता है।

आप सभी लोगों को बता दें। कि अगर निमोनिया का लक्षण हल्के से कम भी हो जाए तो तुरंत डॉक्टर को चेकअप करवा इस बीमारी से फैलने वाली सामान्य लक्षण कौन-कौन से हैं। जिनके लिस्ट भी आप देख सकते हैं।

 बच्चों को फेफड़ों में दर्द तेज बुखार आना सांस लेने में परेशानी फेफड़ों में सूजन

अगर आपके भी बच्चों बच्चों में ऐसा लक्षण लंबे समय से देखने को मिल रहा है तो ऐसे में देरी बिल्कुल भी ना करें तुरंत अपने स्थानीय डॉक्टर से चेकअप करवा ले क्योंकि ज्यादा दिन होने के बाद बहुत ही गंभीर मामला चल रहा है सावधान रहने की जरूरत है।

हालांकि इस पूरे मसले पर यूनियन हेल्थ मिनिस्ट का कहना है। कि भारत में यह वायरस फैलने का खतरा बहुत ही काम है। उसके बावजूद भी हमारा स्वास्थ्य मंत्रालय उसे स्थितियों पर करीबी से नजर बनाए हुए हैं । मंत्रालय के बयान के मुताबिक चीन से रिपोर्ट किए गए।

आर्यरिन इनपुलूजा मामले के साथ-साथ सांस से संबंधित बीमारी के समूह को भारत से कम जोखिम है। यानी भारत में काम खतरा है सास लेने में लोगों को वैसे जो प्रदूषण एरिया में रहने वाले लोग हैं। जैसे दिल्ली नोएडा तो वहां के लोगों को सांस से संबंधित दिक्कत जल्द ही हो सकती है । तो ऐसे में वह सभी लोग सावधान और अलर्ट रहे हैं।

Join Telegram 

Ankit वैश्यकीयार

Ankit Vaishykiyar is a Bihar native with a Bachelor's degree in Journalism from Patna University. With three years of hands-on experience in the field of journalism, he brings a fresh and insightful perspective to his work. Ankit Vaishykiyar is passionate about storytelling and uses his roots in Bihar as a source of inspiration. When he's not chasing news stories, you can find him exploring the cultural richness of Bihar or immersed in a good book.

Note (नोट) :- इस ब्लॉग की सभी खबरें Google Search से लीं गयीं ,कृपया खबर (News) का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें. इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है. पाठक ख़बरे के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा.

Leave a Comment

यहाँ क्लिक करे।
%d