Paytm Crisis : पेटीएम पर कार्रवाई से इनकी हो गई बल्ले बल्ले, धड़ाधड़ ऐप हो रहे हैं डाउनलोड

Paytm Crisis : पेटीएम का इस्तेमाल करने से भी अब लोग डर रहे हैं ऐसी परिस्थितियों में बाकी पेमेंट वॉलेट की बल्ले बल्ले हो गए हैं। आपको बता दे कि फोन पर से लेकर गूगल पर और बाकी वॉलेट को यूजर्स की ओर डाउनलोड किया जा रहे हैं । ऐसे में 31 जनवरी के बाद से तो फोन पर के डाउनलोड में काफी बढ़ोतरी देखने को मिल चुके हैं।

आपको बता दें कि पेटीएम का दिन आजकल काफी खराब चल रहे हैं ऐसे में रिजर्व बैंक आफ इंडिया के एक्शन के बाद तो जैसे पेटीएम पर पहाड़ी टूट पड़े हैं । शेयर लगातार गिर रहे हैं । अब लोग पेटीएम का इस्तेमाल भी करने से डर रहे हैं। ऐसी परिस्थितियों में बाकी पेमेंट वॉलेट की बल्ले बल्ले हो गए हैं । जैसे फोन पर से लेकर गूगल पर और बाकी वॉलेट को यूजर्स की ओर से डाउनलोड किया जा रहे हैं । दूसरे वॉलेट के डाउनलोड करने के 76 फ़ीसदी तक का इजाफा देखने को मिल चुके हैं।

वैसे पेटीएम और आरबीआई के बीच पेटीएम के यूपीआई को थर्ड पार्टी पर करने की बातचीत चल रहे हैं जब तक इस पर कोई फैसला नहीं हो जाते हैं। तब तक कंपनी को काफी डेट पड़ चुके होंगे खास बात तो यह है कि 29 फरवरी के बाद पेटीएम का वॉलेट पूरी तरह से बंद हो जाएंगे। यहां तक की यूपीआई पर भी संकट आने की संभावना है इसका प्रमुख कारण यह है कि यूपीआई सर्विस भी पेटीएम पेमेंट बैंक के पास था। जिस पर आरबीआई की ओर से एक्शन लिए गए हैं लिए आपको भी बताते हैं कि पेटीएम पर जब से कार्रवाई हुई है तब से दूसरे वॉलेट की बल्ले बल्ले कैसे हो गया है।

Paytm Crisis : गूगल पर फोन पर के डाउनलोड में इजाफा हुआ

आपको बता दें कि पेटीएम क्राइसिस के बाद सबसे बेनिफिट फोनपे को हुए हैं जी हां इसका आंकड़ा भी मौजूद है । ऐप इंटेलिजेंस प्लेटफार्म ऐपट्वीक के आंकड़ों की माने तो 31 जनवरी के बाद से अब तक फोन पर के डाउनलोड में 40 फ़ीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिल चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार करीब एक हफ्ते में गूगल और एप्पल प्ले स्टोर से फोनपे को 3 पॉइंट 75 वही गूगल पे के डाउनलोड में इस दौरान 84 फ़ीसदी की तेजी देखने को मिल चुके है।

ये भी पढ़े >>> UPI Government New Plan : यूपीआई को लेकर सरकार का नया प्लान।

Paytm Crisis : पेटीएम की हालत खस्ता

आपको बता दें कि ऐपट्वीक मुताबिक पेटीएम के डाउनलोड स्टेटस वेंटिलेटर पर पहुंच चुके हैं। जी हां करीब दो हफ्तों यानी 31 जनवरी के बाद से पेटीएम केयर डाउनलोड में 32 फ़ीसदी की गिरावट देखने को मिल चुके हैं। इस ड्यूरेशन में पेटीएम का डाउनलोड एक मिलियन से कम यानी 9983001 डाउनलोड हुए हैं खास बात तो यह है कि आरबीआई के एक्शन से एक हफ्ता पहले पेटीएम डाउनलोड का सिस्टम करीब डेढ़ मिलियन यानी 1.48 मिलियन था। विकली बेसिस तो देखें तो पिछले हफ्ते में पेटीएम के डाउनलोड 20 फ़ीसदी कम हुए हैं जबकि गूगल के डाउनलोड में 52 फ़ीसदी और फोन पर के डाउनलोड 76 फ़ीसदी के बढ़ोतरी हो चुके हैं।

अगर बात करें मोबिक्विक की तो कंपनी इस मौके को भूनान की पूरा कोशिश कर रहे हैं कंपनी ने अपने मोबिक्विक वाइब का छोटे कारोबारीयो देना शुरू कर दिए हैं साथ ही कंपनी पीओएस मशीनों की संख्या में मशीनों की संख्या में भी लगातार इजाफा कर रहे हैं । बीते 8 दिन में मोबिक्विक के डाउनलोड में 100 फ़ीसदी की तेजी देखने को मिले हैं। इस दौरान ऑफलाइन मार्केट जीएमवी भी दिस इस द बड़े हैं । ऑनलाइन मार्केट जीएमवी मैं 25 फ़ीसदी का इजाफा देखने को मिल चुके हैं।

Paytm Crisis : एयरटेल पेमेंट बैंक भी तैयार

आपको बता दें कि पेटीएम पेमेंट बैंक पर कार्रवाई के बाद से एयरटेल पेमेंट बैंक इस मौके का फायदा उठाने के लिए तैयार है। अगर बात करें एयरटेल के पेमेंट बैंक मार्केट की तो 10 से ज्यादा लाइव है। वैसे फोन पर और गूगल पे का इंस्टॉल लगातार बढ़ रहा है। हर महीने दो का यूपीआई ट्रांजैक्शन वॉल्यूम में ऑप्शन 80 से 85 की हिस्सेदारी देखने को मिले हैं। एनपीसीआई के मुताबिक दिसंबर 2023 के दौरान यूपीआई वॉल्यूम में फोन पर की हिस्सेदारी 46 फ़ीसदी देखने को मिले थे और गूगल पर की हिस्सेदारी 36 फ़ीसदी थे। वहीं पेटीएम पेमेंट बैंक की हिस्सेदारी मात्र 13 फ़ीसदी देखने को मिले थे।

येभी ढ़ें >>>> Anganwadi Smartphone Scheme 2024 : आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बल्ले-बल्ले, अब सभी आंगनवाड़ी सेविका एवं सहायकों को मिलेगा नया स्मार्टफोन।

Amit Kumar

हलो मैं अमित कुमार, मैं ब्लॉगिंग के इस फील्ड में 2 सालो से कार्यरत हूँ। मैं अभी ग्रेजुएशन पार्ट 3 में हूँ। मैं पढाई के साथ साथ ब्लॉगिंग के फिल्ड में अपना कैरियर बना रहा हूँ। मैं पढाई, नौकरी समाचार, सरकारी योजना तथा मोटर कार, न्यूज़ पॉलिटिक्स पर आर्टिकल लिखना पसंद करता हूँ।

Note (नोट) :- इस ब्लॉग की सभी खबरें Google Search से लीं गयीं ,कृपया खबर (News) का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें. इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है. पाठक ख़बरे के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा.

Leave a Comment

यहाँ क्लिक करे।